How To Online Apply Kusum Solar Yojana 2019

33
35

जैसा की हम सभी जानते हैं की केंद्रीय सरकार द्वारा किसानों के लिए ऊर्जा सुरक्षा की घोषणा की गयी है | केंद्रीय सरकार ने किसानों के लिए कुसुम योजना शुरू की है | इसके तहत किसान अपनी बंजर भूमि पर सोर ऊर्जा यंत्र लगा सकते हैं तथा उससे उत्पन ऊर्जा का इस्तेमाल कर सकते हैं|

यदि किसान अपनी भूमि पर सोर ऊर्जा यंत्र लगाते हैं तो सरकार किसानों को कुल लागत का 60% हिस्सा सब्सिडी के रूप मे देगी मान लीजिए आपका यंत्र 1 लाख का लगता है तो सरकार उसमे से 60000 रुपए आपको सब्सिडी के रूप मे देगी | कुसुम योजना (Kusum Yojana) को शुरू करने का मुख्य कारण यही है की सोर ऊर्जा को बढ़ाबा मिल सके |

कुसुम योजना के फ़ायदे :-

इस योजना के तहत सरकार किसानों की भूमि पर सोर ऊर्जा लगाने पर किसानों को सब्सिडी प्रदान करेगी-

जिसका विवरण इस प्रकार से है :-

  • बैंक किसानों को बैंक ऋण के रूप में कुल व्यय का 30% हिस्सा प्रदान करेगी |
  • सरकार किसानों को सब्सिडी के रूप में यंत्र की कुल लागत का 60% हिस्सा प्रदान करेगी |
  • इस योजना से सोर ऊर्जा को अधिक बड़ावा मिलेगा |
  • किसानों को सोर ऊर्जा यंत्र को लगाने के लिए सिर्फ़ 10% राशि का अग्रिम भुगतान करना होगा |
  • केंद्रीय सरकार किसानों को सीधे उनके बैंक खातों में सब्सिडी प्रदान करेगा|
  • इससे किसानों को किसी भी मुश्किल का सामना नहीं करना पड़ेगा |
  • इस योजना से बंजर भूमि का उपयोग होगा |
  • केंद्रीय बजट 2018-19 में 28,250 मेगावाट की कुल ऊर्जा क्षमता उत्पन्न करने के लिए सरकार 1,40,000 करोड़ रुपए खर्च करेगी |

कुसुम योजना के अवयव

  • केंद्र सरकार किसानों को सौर कृषि पंप लगाने के लिए 17.5 लाख रूपये सब्सिडी देगा |
  • सरकार किसानों की बंजर भूमि पर 10,000 मेगावाट का सौर ऊर्जा यंत्र लगाएगा |
  • सरकार मौजूदा कृषि पंप को सोलारेट करेंगे, जिसमें 7250 मेगावाट की क्षमता होगी जिसका
  • कुल खर्च 15,750 करोड़ रुपये होगा |
  • 8250 मेगावाट क्षमता वाले सरकारी ट्यूबवेलों का कुल खर्च 5000 करोड़ होगा |
  • यह योजना सौर कृषि पंपों के साथ मौजूदा डीजल पंप को बदलने में भी मदद करेगी।

अन्य किसी जानकारी तथा सहायता के लिए आप नीचे दिए गए कॉमेंट बॉक्स में कॉमेंट कर सकते हैं|

33 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here